jasusi kahani : chiku ka jadu | aparna majumdar | Baccho ki Kahani

jasusi kahani : chiku ka jadu | aparna majumdar | Baccho ki Kahani, Baccho ki Kahani, Jasusi Kahani, new motivational story, Short Motivational Story In Hindi, motivational stories for employees,
jasusi kahani : chiku ka jadu | aparna majumdar | Baccho ki Kahani

jasusi kahani : chiku ka jadu | aparna majumdar | Baccho ki Kahani | चीकू का जादू | motivational story in hindi


चंपकवन के राजा शेरसिंह के अपने बेटे बब्बरसिंह के युवराज घोषित किए जाने पर पार्टी का आयोजन किया गया.

पार्टी में आस-पास के वनों के जानवरों को भी आमंत्रित किया गया था. पार्टी में एक खास बात यह थी, वहां खाने का इंतजाम चांदी के बर्तन में किया गया था.

पार्टी में सभी छोटे-बड़े जानवर आए हुए थे. सभी जानवर बब्बरसिंह को युवराज घोषित किए जाने पर बधाईयां दे रहे थे.

सुरक्षा अधिकारी चीकू खरगोश की निगाह पार्टी में मौजूद जैकी सियार पर गयी. वह पार्टी मंे जानवरों से मिलने की बजाय इधर-उधर ताक-झांक कर रहा था.

जैकी सियार, राजा शेरसिंह के खास दोस्तों में से था. इसीलिए वह उससे कुछ कह भी नहीं सकता था. वह जैकी की गतिविधियों को नोट करने लगा.

पार्टी में नाच-गान के साथ चुटकूले आदि भी सुनाए जा रहे थे. सभी खाने-पीने के साथ-साथ कार्यक्रम का मजा ले रहे थे.

रात काफी हो चुकी थी. पार्टी खत्म होने को थी तभी चीकू खरगोश ने माईक अपने हाथ में लेकर कहां, ‘‘यहां उपस्थित सभी को मैं एक जादू दिखाना चाहता हूंक.’’






पार्टी में उपस्थित सभी जानवर चीकू की ओर देखने लगे.

चीकू ने जैकी को अपने पास बुलाया और एक चम्मच दिखाकर कहां, ‘‘मैं यह चम्मच जैकी के बाएं जेब में डालूंगा और उसके दाएं जेब में से इसे निकालुंगा.’’

चीकू जैसे ही जैकी की जेब में चम्मच डालने लगा,  तो वह गुस्सा से बोला, ‘‘यह क्या बदतमीजी है. मेहमानोे के साथ ऐसा सलूक किया जाता है. तुम्हंे पता है न मैं राजा शेरसिंह का खास दोस्त हूं.’’

चीकू ने कहां, ‘‘आपके साथ कोई बूरा सलूक नहीं किया जा रहा है, मैं तो सिर्फ जादू दिखा रहा हूं.’’

‘‘क्या जादू दिखाने के लिए मैं ही मिला था.’’ जैकी ने वहां से हटते हुए कहां.

राजा शेरसिंह ने कहा, ‘‘जैकी इसमें नाराज होने की जरूरत नहीं है. यह तो केवल एक खेल है.’’

राजा के कहने पर जैकी चुपचाप खड़ा हो गया.

jasusi kahani : chiku ka jadu | aparna majumdar | Baccho ki Kahani, Baccho ki Kahani, Jasusi Kahani, new motivational story, Short Motivational Story In Hindi, motivational stories for employees,

jasusi kahani : chiku ka jadu | aparna majumdar | Baccho ki Kahani, Baccho ki Kahani, Jasusi Kahani, new motivational story, Short Motivational Story In Hindi, motivational stories for employees,
jasusi kahani : chiku ka jadu 




चीकू ने जैकी के बाएं जेब में चम्मच डाला और दाएं जेब से एक-एक करके चांदी के चम्मच निकालने लगा.

यह देखकर सभी जानवर खुशी से ताली बजाने लगे.

चीकू ने कहा, ‘‘अब मैं जैकी के शर्ट के पाॅकेट में टूथपिक डालूंगा और इसके मोजे से कांटा निकालूंगा.’’

चीकू ने जैकी के शर्ट के पाॅकेट में टूथपिक डालकर मोजे से चांदी के कई कांटे वाले चम्मच निकाले.

जैकी हैरान परेशान सा चुपचाप खड़ा था. उसे चीकू पर गुस्सा तो बहुत आ रहा था, लेकिन कुछ कहने की बजाय चुपचाप रहने में ही अपनी भलाई समझी.

चीकू ने कहां, ‘‘अब में एक अंतिम खेल दिखाता हूं. मैं यह नेपकीन जैकी के कोट के पाॅकेट में रखूंगा और उसके हैट के नीचे से कटोरी निकालूंगा.’’ कहते हुए उसने हैट को उटाया और चांदी की कटोरी निकालकर सबको दिखाया.






वहां उपस्थित सभी जानवर तालियां बजाने लगे.

जैकी सियार अपना पैर पटकता हुआ वहां से चला गया. जानवरों ने उसे रोकने की कोशिश की, लेकिन वह वहां नहीं रूका.

Read This :- Youtube Se Kamai Kaise Kare | Online Business | WomenBusiness Ideas | Business Mantra

अगले दिन राजा शेरसिंह ने चीकू की तारीफ करते हुए कहां, ‘‘कल तो तुमने कमाल कर दिया. हमें तो पता ही नहीं था कि तुम इतने अच्छे जादूगर भी हो.’’

चीकू ने कहां, ‘‘महाराज, कल आपने जो कुछ देखा वह कोई जादू नहीं था.’’

‘‘तो वह क्या था?’’ राजा शेरसिंह ने आश्चर्य से पूछा.

‘‘महाराज, कल जब मैं पार्टी में सुरक्षा व्यवस्था देख रहा था तब मुझे जैकी के हावभाव से कुछ शक हुआ. जब मैंने उसकी गतिविधियों पर गौर किया तो देखा कि वह सभी की नजर बचाकर चांदी के मंहगें चम्मच, कटोरी चुराकर अपने कोट व पैंट की जेब में रख रहा हैं.’’

jasusi kahani : chiku ka jadu | aparna majumdar | Baccho ki Kahani, Baccho ki Kahani, Jasusi Kahani, new motivational story, Short Motivational Story In Hindi, motivational stories for employees,
aparna majumdar | Baccho ki Kahani
jasusi kahani : chiku ka jadu | aparna majumdar | Baccho ki Kahani, Baccho ki Kahani, Jasusi Kahani, new motivational story, Short Motivational Story In Hindi, motivational stories for employees,

‘‘उसकी इतनी हिम्मत... तुम्हें उसी वक्त उसे रंगेहाथों गिरफ्तार करना चाहिए था.’’ राजा शेरसिंह ने कहा.

‘‘महाराज, मैं उसे जरूर रंगेहाथ पकड़ लेता, लेकिन इससे पार्टी का मजा भी किरकिरा हो जाता और बाहर से आए हुए मेहमानों के सामने हमारी बेइज्जती भी होती.’’

‘‘हम कुछ समझे नहीं?’’ राजा शेरसिंह ने पूछा.

Read This :- प्रेरक कहानी : अपनापन | true motivational stories in hindi | apekshamazumdar

‘‘यह सभी को मालूम है की जैकी आपके खास दोस्तों में से हैं. सभी के सामने उसे रंगे हाथों पकड़ने पर पार्टी में मौजूद मेहमान यही सोचते कि राजा के कैसे-कैसे गंदें जानवर से दोस्ती हैं. इसीलिए मैंने काफी सोच विचार के बाद जादू दिखाने के बहाने जैकी के पास से चांदी के बर्तन निकाल लिए. इससे उसे इस बात का पता तो चल गया कि हमें उसके द्वारा की गई चोरी का पता चल गया है. वह अब यहां कभी नहीं आएगा. ऐसा करने से चोर भी पकड़ा गया और वहां उपस्थित मेहमानों को कुछ पता भी नहीं चला.’’

चीकू की बात सुनकर राजा बहुत खुश हुआ और उसने चीकू को बहुत सारा इनाम दिया.

उस दिन के बाद से जैकी सियार चंपकवन में फिर कभी दिखायी नहीं दिया.


jasusi kahani : chiku ka jadu | aparna majumdar | Baccho ki Kahani, Baccho ki Kahani, Jasusi Kahani, new motivational story, Short Motivational Story In Hindi, motivational stories for employees,


No comments

Note: Only a member of this blog may post a comment.

Powered by Blogger.